मुख्य पृष्ठ पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफसीसी) से अनुमति
 
पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफसीसी) से अनुमति

पर्यावरण (संरक्षण) अधिनियम 1986 की आवश्यकताओं व तत्संबंधी अधिसूचनाओं के अनुरूप एनपीसीआईएल अपनी न्यूक्लियर विद्युत परियोजनाओं/ पार्कों के लिए पर्यावरण एवं वन मंत्रालय (एमओईएफ) से विहित प्रक्रिया के अनुसार अनुमति प्राप्त करता है।

पर्यावरण एवं वन मंत्रालय (एमओईएफ) से अनुमति प्राप्त करने के विभिन्न् चरण/ आवश्यकताएं निम्नानुसार हैं:

  • पर्यावरण प्रभाव आकलन हेतु संदर्भ की शर्तों (टीओआर) का अनुमोदन
  • पर्यावरण प्रभाव आकलन (ईआईए) अध्ययन
  • जन परामर्श
  • परियोजना पश्च मॉनीटरन योजना

भारतीय विनियामक कार्यढांचे ( 1986 से पहले) के अनुसार पर्यावरणीय अनुमति कार्य-पूर्व आवश्यकता नहीं थी। अतएव टीएपीएस 1 व 2, आरएपीएस 1 व 2, एमएपीएस, एनएपीएस तथा केएपीएस 1 व 2 के लिए पर्यावरणीय अनुमति प्राप्त करना आवश्यक नहीं था।

एनपीसीआईएल द्वारा प्राप्त की गई पर्यावरणीय सहमतियों का विवरण इस प्रकार है:
     
 
तारापुर महाराष्ट्र स्थल
     
 
रावतभाटा राजस्थान स्थल
     
 
कलपक्कम स्थल
     
 
नरौरा स्थल
     
 
काकरापार स्थ‍ल
     
 
कैगा स्थल
     
 
कुडनकुलम स्थ‍ल
     
 
जैतापुर स्थल
     
 
गोरखपुर हरियाणा स्थल
     
 
नवीन परियोजनाएं